कांग्रेस सहित पूरा इंडी एलायंस अर्बन नक्सल के विचारों के चंगुल में : रामकृपाल यादव

City/ State Cover Story Politics बिहार लोकसभा चुनाव 2024

पटना, 27 अप्रैल। पूर्व केंद्रीय मंत्री और पाटलिपुत्र से भाजपा के प्रत्याशी रामकृपाल यादव ने आज कांग्रेस के घोषणा पत्र को लेकर राजद और कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि एनडीए सरकार प्रधानमन्त्री मोदी के नेतृत्व में भारत को विश्व की पांचवी अर्थव्यस्था से तीसरी अर्थव्यवस्था बनाने में लगी है जबकि कांग्रेस का घोषणा पत्र लोगों के जीवन भर की कमाई का एक्स रे कर उसे लूटने की योजना बना रही है।

पटना के भाजपा मीडिया सेंटर में आज एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा नेता श्री यादव ने कहा कि आजादी के बाद सबसे अधिक सत्ता में कांग्रेस रही। तब देश की हालत कैसी थी और 10 साल पहले जब आपने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए पर विश्वास व्यक्त किया उसके बाद देश की हालत कैसी है वह भी आपके सामने है। प्रधानमन्त्री ने निष्ठा और ईमानदारी से देश को अंधकार से बाहर निकाला।

श्री यादव ने कहा कि कांग्रेस सहित पूरा इंडी एलांएस अर्बन नक्सल के विचारों के चंगुल में है। उन्होंने कहा कि कांगेस कह रही है की देश की जनता ने अपने बाल बच्चों के लिए जो कमाया है उसको उनसे छीन कर मुसलमानों को बांट देगे। वैसे, कांग्रेस की यही नीति रही है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी कहा था कि इस देश के संसाधनों पर पहला हक मुसलमानों का है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री यादव ने कहा कि जिस तरह से राहुल गांधी ने आर्डिनेस फाड़ कर मनमोहन सरकार के कैबिनेट के निर्णय का विरोध किया था। उसी तरह से कांग्रेस और राजद में अगर हिम्मत है तो कहे कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गलत बोला था।

उन्होंने कहा कि मोदी कहते हैं इस देश के संसाधनों पर पहला हक गरीबों को है। देश में सिर्फ एक ही जाति है और वह है गरीबी। इसलिए मोदी गरीबों को मुफ्त घर, मुफ्त इलाज, मुफ्त राशन दे रहे हैं। उनका आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक उत्थान कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि एनडीए सरकार में 22 करोड़ गरीबों को गरीबी रेखा से बाहर निकाला है। इंडिया गठबंधन की नीतियां भारत को उस युग में ले जाना चाहती है जब देश का सोना विदेश में गिरवी रखा गया था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पार्टनर राजद भी कांगेस के घोषणा पत्र का समर्थन कर रही है।

श्री यादव ने दावा किया कि इस चुनाव में इंडी गठबंधन का सूपड़ा साफ हो जाएगा और एनडीए देश में 400 पार और बिहार में 40 का आंकड़ा छुएगी।