Routes 2 Roots (R2R) सोशल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होने वाला भारत का पहला एनजीओ बना

Life Style National Press Release Regional स्थानीय समाचार

New Delhi, 28-03-2024 Routes 2 Roots (R2R) सोशल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होने वाला भारत का पहला एनजीओ बना जो कला और संस्कृति के कार्यों में सक्रिय है एसएसई को गैर सरकारी संगठनों (NGOs) में स्वच्छ धन और पारदर्शी निवेश प्रथाओं को बढ़ावा देने की उम्मीद है; R2R हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में सांस्कृतिक शिक्षा और आपदा पुनर्प्राप्ति के कार्यों में सक्रिय है

Routes 2 Roots ( R2R ) दिल्ली स्थित एक NGO है जो कला संस्कृति एवं विरासत को बढ़ावा देने का काम कर रहा है। इतना ही नहीं वह पहला सोशल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होने वाला NGO है। यह उपलब्धि इसलिए बहुत ही महत्वपूर्ण है की इसके चलते स्वच्छ धन और पारदर्शी निवेश प्रथाओं को प्रोत्साहन मिलेगा। हाल ही में सोशल स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से R2R का IPO आया था, जिसकी बहुत ही मांग रही और सभी IPO पूर्ण भरपाई हुए।

https://www.facebook.com/photo?fbid=932407988914707&set=a.739605764861598

 

सोशल स्टॉक एक्सचेंज का उद्देश्य यह है कि जो भी सामाजिक संस्था एवं एनजीओ है वह पारदर्शी तरीके से धन एकत्रित करें और एक जिम्मेदारी से निवेश प्राप्त करें। ताकि समाज में एक सकारात्मक परिवर्तन की नींव रखी जाए। 2023 में सेबी द्वारा पेश किया गया एसएसई भारत में सामाजिक प्रभाव वाले निवेश में क्रांति लाने की अपार क्षमता रखता है। तकरीबन 3.4 मिलियन नॉन प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन सक्रिय है, सोशल स्टॉक एक्सचेंज इन सभी को एक महत्वपूर्ण प्लेटफार्म प्रदान कर रहा है ताकि वे अपने सामाजिक कार्यों को प्रभावी ढंग से कर पाए। यह प्लेटफॉर्म उन सभी निवेशकों के लिए एक सकारात्मक मौका है जो अपने निवेश के बदले में रिटर्न तो पाएंगे ही साथ में कुछ सामाजिक कार्य एवं लोगों की भलाई करने का संतोष भी प्राप्त कर पाएंगे।R2R का सोशल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होना यह इस बात का प्रमाण है कि वह अपनी पारदर्शिता एवं जवाबदेही एवं संस्कृति शिक्षा प्रदान करने कार्य के लिए प्रतिबद्ध है। उनका लक्ष, अंततः एक अधिक समावेशी और न्यायसंगत समाज में योगदान देना है।R2R का लिस्टिंग समारोह NSE मुख्य कार्यालय बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में आयोजित किया गया। इस लिस्टिंग समारोह में 25 स्कूली एवं कॉलेज छात्रों को भी आमंत्रित किया गया, जिसका उद्देश्य यह था कि वह अपनी छोटी उम्र से ही जिम्मेदार निवेश बने और पारदर्शिता के महत्व समझे। यह समावेशी शिक्षा को बढ़ावा देने के मिशन का ही हिस्सा हैं। साथ में इस समारोह को ऑनलाइन प्रकाशित भी किया गया ताकि सभी स्टेकहोल्डर्स को भी सभी चीजों से अवगत किया जाएइस समारोह में विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित अतिथियों की भी उपस्थिति देखी गई, जिनमें प्रसिद्ध अभिनेत्री जूही चावला, सितार वादक और बॉलीवुड संगीत निर्देशक असद खान, ग्रैमी पुरस्कार विजेता और बांसुरी वादक राकेश चौरसिया, गायक और राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता जावेद अली, संगीत निर्देशक एहसान नूरानी, बॉलीवुड गायिका और पद्म श्री पुरस्कार विजेता अनुराधा पौडवाल, गायक और पद्म विभूषण एस.पी. बालासुब्रमण्यम, “कश्मीर फाइल्स” के फिल्म निर्देशक सुदीप्तो सेन और बॉलीवुड संगीत निर्देशक जोई बरुआ। इसके अतिरिक्त, एनएसई के एमडी,  नाबार्ड और सेबी के प्रतिनिधियों सहित प्रमुख संगठनों के गणमान्य व्यक्तियों नें इस कार्यक्रम की शोभा बढ़ाइ।इस पहल के बारे में, R2R के संस्थापक, श्री राकेश गुप्ता ने कहा, “सोशल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होना कला और संस्कृति के माध्यम से सकारात्मक सामाजिक परिवर्तन को बढ़ावा देने की दिशा में हमारी यात्रा में एक नए अध्याय का प्रतीक है। हम निवेशकों द्वारा मिले समर्थन और उत्साह से रोमांचित हैं और समाज की भलाई के लिए अपने प्रभाव को अधिकतम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”
इस पहल का मुख्य उद्देश्य दो महत्वपूर्ण सीमावर्ती राज्यों हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में पुनर्वास करने का है, जिन्होंने हाल ही में बाढ़ और भूस्खलन के विनाशकारी प्रभाव को सहन किया है। जुटाई गई धनराशि को आवश्यक शैक्षिक बुनियादी ढांचे के कार्यान्वयन के लिए इस्तेमाल की जाएगी, जिसमें सांस्कृतिक डिजिटल इंटरैक्टिव कार्यक्रम का एकीकरण और K12 शैक्षिक ई-पुस्तकों का वितरण शामिल है। इन राज्यों के सभी 25 जिलों में फैले सौ स्कूलों में कार्यान्वयन किया जाएगा, जिससे कई छात्रों को उच्च गुणवत्ता वाले शैक्षिक संसाधनों तक पहुंच प्रदान करके लाभान्वित किया जाएगा।