राजधानी पटना में नाबार्ड हाट- 2024 का उद्घाटन

Blog Education Health

पटना,नाबार्ड, बिहार क्षेत्रीय कार्यालय, पटना द्वारा प्रायोजित और अंबपाली हस्तकरघा एवं हस्तशिल्प बहुराज्यीय सहकारी समिति लिम, पटना बिहार द्वारा आयोजित नाबार्ड हाट- 2024 ग्रामीण उद्यमियों, समूह के कलाकारों को मार्केटिंग प्लेटफार्म देने की एक पहल है। बाज़ार अपनी गुणवत्ता और ग्रामीण क्षेत्रों के उद्यमियों, समूह के कलाकारों द्वारा हाट में स्वयं बिक्री तथा उचित दर पर उपलब्ध उत्पादो के कारण हाट काफी लोकप्रिय हो चला है।नाबार्ड हाट- 2024 का विधिवत उदघाटन गांधी मैदान के खूबसूरत पंडाल में 150 से भी अधिक सजे हुये दुकानों के साथ शुभारंभ हुया जिसमें मुख्य अतिथि और उदघाटनकर्ता
डा. श्रवण कुमार,,डॉ सुनील कुमार, मुख्य महाप्रबंधक,नाबार्ड, बिहार क्षेत्रीय कार्यालय, पटना शिव ओहम दीक्षित,शैलेन्द्र सिंह, सुधांशु शेखर दास,
विनय कुमार झा, डा. आशुतोष कुमार झा,अध्यक्ष उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक, डीपी खुराना ,मिस्टर खालिद इकबाल, के करकमलों द्वारा आकर्षक हाट के प्रांगण में किया गया, दीप प्रज्वलित करके आज़ादी के अमृत महोत्सवके उपलक्ष्य आकाश में गुब्बारे उड़ाकर हुआ। इस अवसर पर श्री अजय साहू,नाबार्ड बिहार क्षेत्रीय कार्यालय, पटना के वरिष्ठ पदाधिकारीगण, जिला विकास पदाधिकारी प्रिय रंजन जी नाबार्ड, श्रीमति अर्चना सिंह, प्रेसिडेंट, डॉ जनार्दन, किरण झा निदेशक अंबपाली, समिति के सदस्य गण कलाकार उपस्थित थे।
इस बाजार में कुल 150 दुकाने लगाई गई है। कुटीर उद्योग, हस्तशिल्प, हस्तकरघा, कृषि की उत्पाद की साथ इसके अतिरिक्त खान पान, समूहो द्वारा उत्पादित पापड़ सत्तू, लाल मिर्च का आचार, च्नौरी, बड़ी उत्पाद बिक्री के लिए उपलब्ध हैं। बिहार की लगभग हर जिले से भागीदारी है पूरे देश की ग्रामीण क्षेत्रों से उद्यमी भाग ले रहे।पर्यावरण और प्लास्टिक बैग के उपयोग न करने को भी इस बाज़ार में जागरूक करने की पहल है, इस के लिए कपड़े, जूट के थैला की दुकानें कलाकारों द्वारा उचित मूल्य पर उपलबद्ध हैं। डॉ जनार्दन जी ने पर्यावरण पर ग्राहकों को जागरूक किया कि प्लास्टिक से कितना नुकसान पर्यावरण को हो रहा है।हाट में भाग ले रहे प्रतिभागियों को निःशुल्क दुकानों के साथ अन्य सुविधाएं भी दी गई है, रहने और भोजन की सुविधा के साथ दैनिक भत्ता के साथ आने जाने और माल ढोयाई भाड़ा आदि भी दिया जाएगा । यह हाट दस दिनो तक एक मार्च तक चलेगा। इसमे प्रतिदिन नुक्कड़ नाटक और श्री अमितेश चंद्रासहित कई लोकप्रिय कलकार शिरकत कारेंगे। मनोरंजन की लिए बहुत ख्याल रखा गया है।