जातीय जनगणना की रिपोर्ट फर्जी, कई जातियों की आबादी को आधे से भी कम दर्शाया गया : आशुतोष कुमार

Politics

बिहार सरकार के द्वारा जारी जातीय जनगणना ने बिहार में राजनीतिक पारा बढ़ा रखा है। इसी बीच भूमिहार ब्राह्मण एकता मंच के अध्यक्ष आशुतोष कुमार ने बिहार सरकार के द्वारा जारी किए गए जातीय जनगणना के रिपोर्ट का विरोध किया और उन्होंने जातीय जनगणना की रिपोर्ट को फर्जी बताया। उन्होंने इस जनगणना के तरीके पर भी सवाल खड़े किए।

आशुतोष कुमार ने कहा कि यह रिपोर्ट फर्जी है और इसमें न केवल भूमिहारों की बल्कि सभी अनारक्षित समाज के जातियों की आबादी को आधे से भी कम दर्शाया गया है। आशुतोष कुमार ने यह आरोप लगाते हुए कहा कि हमारे पास हजारों ऐसे उदाहरण हैं, जिनके घरों तक जातियों की गिनती करने वाली सरकारी सर्वे टीम पहुंची ही नहीं।

आशुतोष कुमार ने कहा कि हम इस रिपोर्ट को चुनौती देते हुए समाज के बीच जायेंगे और ऐसे लाखों लोगों का हस्ताक्षर सहित डाटा एकत्रित करेंगे, जिन्हे इस सर्वे से वंचित रखा गया है और इसी डाटा के आधार पर महामहिम राज्यपाल और न्यायालय से न्याय की गुहार लगाएंगे।